VR technology kya hai
virtual reality in Hindi
virtual reality in Hindi

Table of Contents

Virtual reality in Hindi

हेलो दोस्तों, स्वागत हे आपका Sciencegyani के इस नए ब्लॉगपोस्ट में । आज के टॉपिक में हम What is virtual reality in Hindi? जैसे सवालो के जवाब जानेंगे ।

अभी तक Display technology का उपयोग कंप्यूटर , टीवी में कई कार्य को करने और मनोरंजन के लिए किया जा रहा हे । लेकिन मेटावर्स की खबर आते ही VR टेक्नोलॉजी (virtual reality in Hindi ) ने फिर एक बार लोगो का ध्यान आकर्षित किया हे । इसलिए आप और मेरे जैसे टेक्नोलॉजी उत्साही के लिए जानना जरुरी हो जाता हे की ये टेक्नोलॉजी क्या हे और इसका क्या महत्व हे ।

इस ब्लॉगपोस्ट(virtual reality in Hindi) में हम इसी के बारे में जानने की कोशिश करेंगे । virtual reality in Hindi में हम जानेंगे की वर्चुअल रियलिटी क्या है ? Virtual Reality Technology कैसे काम करती हे और इसका इतिहास क्या हे ? इसके आलावा हम जानेंगे की कितने प्रकार की वर्चुअल रियलिटी होती हे ?

और आखिर में हम जानेंगे की Virtual Reality में हम कौन से हार्डवेयर और टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करती हे और वर्चुअल रियलिटी के फायदे कोन से हे ।

What is virtual reality in Hindi? वर्चुअल रियलिटी इन हिंदी

वर्चुअल का अर्थ क्या है ? (VR का मतलब क्या होता है?)वर्चुअल का अर्थ होता हे आभासी और रियलिटी का अर्थ होता हे वास्तविकता । इस तरह वर्चुअल रियलिटी का अर्थ हुआ की एक ऐसी वास्तविकता जो आभासी हे और सच नहीं हे । पर बिलकुल असली प्रतीत होती हे ।

virtual reality in Hindi meaning वर्चुअल रियलिटी को आप अपनी इन्द्रियों के जरिए आसानी से समझ सकते हे । जैसे आप अपनी असली दुनिया का अनुभव अपनी इन्द्रियों(दृष्टि, ध्वनि, गंध, स्वाद और स्पर्श) के जरिए करते हे । वैसे ही वर्चुअल रियलिटी इन सभी इन्द्रियों का उपयोग करके आपके दिमाग को भ्रमित करता हे जिससे आपको वर्चुअल रियलिटी की दुनिया भी असली ही लगती हे ।

Virtual reality game
Virtual reality game

वर्चुअल रियलिटी क्या है समझाइए?

मान लीजिए अगर आप किसी जंगल में हे तो आप कैसे जानते हे की आप जंगल में ही हे और ना किसी और जगह पर?

अपनी इन्द्रियों के जरिए ।

आप उन जंगल के पेड़ , पौधे , झरनो , प्राणी और पक्षी को देख सकते हे , उन्हें छू सकते हे , फूलो की महक को सूंघ सकते हैं , आवाज को सुन सकते हे ।

आपकी इन्द्रियो के जरिए मिलने वाली जानकारी ही आपको एहसास दिलाती हे की आप जंगल में हे । वर्चुअल रियलिटी में भी ऐसा ही हे । फर्क सिर्फ इतना है कि यह जानकारी वर्चुअल रियलिटी टेक्नोलॉजी के माध्यम से प्रदान की जाती है ।

आपकी इन्द्रियों से मेहसूस होने वाले हर एहसास को कम्प्यूटर की मदद से अनुकरण किया जाता हे । इसलिए आप खुद जंगल में जाने के बजाय , आप जंगल की 360-डिग्री छवि-इमेज या वीडियो देखेंगे, पक्षी या प्राणी की आवाज की रिकॉर्डिंग सुनेंगे, इत्यादि । जिससे आपको ऐसा ही लगेगा की आप जंगल में ही हे । फिर क्यों ना आप घर में ही हो ।

जिसके लिए आपको कम्प्यूटर के उपकरण अपने शरीर पर पहनने होंगे । लेकिन एक शानदार वीआर अनुभव के लिए बड़ी मात्रा में कंप्यूटर पावर और सामग्री की उपलब्धि होनी जरुरी हे ।

Virtual reality definition in hindi : आसान भाषा में समझे की virtual reality kya hai तो केह सकते हे की ये एक ऐसी आभासी वास्तविकता हे जिसको कंप्यूटर के माध्यम से बनाया जाता हे । ये एक कंप्यूटर जनित 3 dimensional (3D) वातावरण है जिसमें उपयोगकर्ता खुद को शारीरिक रूप से उपस्थित होने का अनुभव करता है ।

यह ऑगमेंटेड रियलिटी से कैसे अलग है? VR vs AR

कई लोग इन दोनों में अस्पष्ट होते हे की ऑगमेंटेड रियलिटी क्या हे और वर्चुअल रियलिटी क्या हे ?

में बता दू की दोनों में काफी फर्क हे । ऑगमेंटेड रियलिटी में आप आपके रूम में ही सिर्फ चश्मा पेहन कर AR की मदद से आभासी वस्तुए देख सकते हे । और इसके बारे ने इन्फॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हे ।

जो आपको अपने काम को बेहतर करने में मदद कर सकता हे । जैसे कोई रास्ते से गुजरते वक्त आनेवाले चीजों की जानकारी चश्मे की मदद से मिल सकती हे । ये चस्मा आपके रस्ते में आनेवाली सभी चीजों की जानकारी दे सकता हे जैसे रेस्टोरेंट , बिल्डिंग , पार्किंग कहा कर सकते हे , दिशा की जानकारी, लोगो की पहचान जैसी जानकारी ।

आपने Ironman मूवी में भी देखा होगा । आयरनमैन मूवी में भी ironman का हेलमेट ऑगमेंटेड रियलिटी का इस्तेमाल करके दिखने वाली में आनेवाली सभी चीजों की जानकारी स्क्रीन पर देता हे ।

आपने मोबाइल फ़ोन में Pokemon Go गेम खेली होगी । जिसमे आप मोबाइल में पोकेमोन को देख सकते हे जो ऑगमेंटेड रियलिटी का ही उदहारण हे । उसी तरह गूगल लेंस भी AR का उदहारण हे । AR vs virtual reality in Hindi

what is the meaning of virtual reality in hindi

वर्चुअल रियलिटी हमारी असली वातावरण के आलावा, एक अलग ही आभासी 3d वातावरण खड़ा करता हे । वर्चुअल रियलिटी में हेडसेट लगने के बाद आप अपने आसपास के वातावरण को नहीं देख पाएंगे । जब की ऑगमेंटेड रियलिटी में हमारे आसपास के वातावरण में ही आभासी वस्तुए देखी जा सकती हे जैसे ऊपर की इमेज में दिखाया गया हे ।

वर्चुअल रियलिटी टेक्नोलॉजी के इतिहास के बारे में

वर्चुअल रियलिटी की खोज सबसे पहले मार्टिन हैलिग ने 1950 में की थी । उन्होंने बूथ के रूप में एक वीआर मशीन ‘सेंसोरमा‘ बनाकर शुरुआत की, जिसने वीडियो, ऑडियो, गंध और यहां तक कि हवा जैसे वायुमंडलीय प्रभावों के साथ सभी इंद्रियों को उत्तेजित किया।

इन्होने इसके बाद टेलीस्फियर मास्क‘ की रचना की । हालांकि यह व्यावसायिक रूप से कभी सफल नहीं हुआ, टेलीस्फीयर मास्क अब तक का पहला हेड-माउंटेड (सर पे रखा जा सके इस तरह ) डिस्प्ले था !

इसके बाद 1968 में Ivan Sutherland और Bob Sproull के द्वारा ‘Sword of Damocles’ नामक पहला हेड माउंटेड डिस्प्ले बनाया जो हलन चलन को ट्रेक कर पाता था । सर हिलाने से डिस्प्ले का वीडियो भी हिलता । लेकिन ये काफी भारी था इसलिए इसे दिवार से लटका हुआ रखना पड़ता ।

Sword of Damocles VR
Sword of Damocles VR

इसके बाद के दशको में NASA और मिलिटरी के समेत और कई कोम्पनिओ के द्वारा कई VR डिवाइस की रचना हुई ।

प्रथम वी आर हेडसेट कब बना? 1994 में VPL Research नामक कंपनी ने पहली बार VR हेडसेट को मार्केट में बेचा । इस टेक्नोलॉजी को VPL Research कंपनी ने वर्चुअल रियलिटी (virtual reality in Hindi) नाम दिया ।

1990 के दौरान निनटेंडो और सेगा जैसी गेमिंग कोम्पनिओ ने VR को बढ़ावा दिया । उन्होंने बड़े VR मशीन और हेडसेट भी बनाये जिसे दुनिया भर में इस्तेमाल किया गए ।

Oculus Rift
Oculus Rift

लेकिन 2010 से VR टेक्नोलॉजी ने वर्चुअल रियलिटी का भविष्य ही बदल दिया । Palmer Luckey नामक एक अमेरिकन व्यापारी ने VR हेडसेट का एक प्रोटोटाइप बनाया । जिसका नाम Oculus Rift रखा गया । जिससे उन्होंने किफायती प्रेप्रोडक्शन मॉडल्स बनाये । फेसबुक ने 2014 में इस कंपनी को 2 बिलियन डॉलर से ज्यादा में ख़रीदा ।

वर्चुअल रियलिटी पर आधारित उपकरण का उदाहरण क्या है? आज के समय में VR टेक्नोलॉजी में HTC Vive Pro, Valve Index, Oculus Quest, PlayStation VR, The HTC Vive, Samsung Odyssey+, Oculus Rift S, Samsung Gear VR और मिक्स्ड रियलिटी में Microsoft HoloLens का इस्तेमाल होता हे ।

वर्चुअल रियलिटी कैसे काम करती हे? How Does VR Technology Work?

VR टेक्नोलॉजी में हार्डवेयर और सॉफ्टवेर की मदद से ऐसा 3D वर्चुअल वातावरण की रचना की जाती जिससे उपयोगकर्ता को लगता हे की वे कोई अलग ही दुनिया में हे । और इसमें लगे सेंसर से और कंट्रोल की वजह से हमारी लगभग सभी इन्द्रियों को प्रभावित की जाती हे ।virtual reality in Hindi

ध्वनि, स्पर्श, गंध या गर्मी की तीव्रता, कंपन को महसूस करने के लिए हार्डवेयर का उपयोग होता हे । जबकि आंखे और दिमाग को आभासी दुनिया का एहसास दिलाने के लिए कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का उपयोग होता हे ।virtual reality in Hindi

VR भी उसी सिद्धान्त पे काम करती हे जैसे हमारी आंखे दुनिया को एकल दृश्य से देख पाती हे । हमारी दोनों आंखे एक दूसरे से लगभग 3 इंच की दुरी पर हे । ये दोनो आंखे दो अलग अलग इमेज बनाती हे । मस्तिष्क दो इमेज प्राप्त करता है, और उन्हें प्राप्त अन्य जानकारी के साथ संसाधित करता है और एक छवि देता है, जिसके परिणामस्वरूप हम दृश्य की गहराई(Depth of vision) को देख सकते हे और दो की जगह पर एक ही दृश्य देखते हे । virtual reality in Hindi

Binocular vision
Binocular vision

वीआर में इसी घटना को दोहराकर दो अलग-अलग दृष्टिकोणों से दो छवियों दिखाया जाता हैं। संपूर्ण स्क्रीन को कवर करने वाली एक छवि के बजाय, यह प्रत्येक आंख के दृश्य के लिए बनाई गई दो समान तस्वीरें दिखाती है । वीआर तकनीक दर्शकों के मस्तिष्क को गहराई की भावना को समझने के लिए मजबूर बनाती है और ये एक 3D छवि के रूप में दिखाई देता है ।

ऊपर से वर्चुअल रियलिटी हेडसेट, उपयोगकर्ता की आंखों के सामने एक स्क्रीन लगाकर वास्तविक दुनिया से उनके कनेक्शन को खत्म कर देता हे जिससे आप की आंख बाहरी वातावरण को नहीं देख पाए ।virtual reality in Hindi

Virtual Reality headset
Virtual Reality headset

ऑटोफोकस लेंस को आँखों और स्क्रीन के बिच लगाया जाता हे । ऑटोफोकस लेंस को आँखों की गति और स्थिति के आधार पर एडजस्ट करने से ये डिस्प्ले के साथ साथ आपके हलनचलन को ट्रेक कर पता हे । दूसरी तरफ एक उपकरण होता है जैसे कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस जो हेडसेट पर लेंस के माध्यम से दृश्य उत्पन्न करता है ।

लेंस के माध्यम से आंखों तक दृश्य पहुंचाने के लिए कंप्यूटर को केबल के माध्यम से हेडसेट से जोड़ा जाता है। दृश्य प्रदान करने के लिए एक समर्पित मोबाइल डिवाइस का उपयोग करते समय, फोन सीधे हेडसेट पर लगाया जा सकता है ।

मोबाइल डिवाइस की छवि के संबंध में हेडसेट के लेंस छवियों को बड़ा करने का काम करता हे ।

वर्चुअल रियलिटी के प्रकार (types of virtual reality in Hindi)

वर्चुअल रियलिटी का इस्तेमाल गेमिंग के आलावा मैन्युफैक्चरिंग से लेकर स्वास्थ्य सेवा जैसे कई क्षेत्रो में किया जाने लगा है । सभी क्षेत्रो में इसका अनुभव और उपयोग अलग अलग हे । उसके उपयोग और अनुभव के आधार पर वर्चुअल रियलिटी को 5 प्रकार में वर्गीकृत किया गया हे । जिसके बारे में हम आगे जानकारी प्राप्त करेंगे ।

वर्चुअल रियलिटी के मुख्य प्रकार क्या है? कंप्यूटर जनित सिमुलेशन के विभिन्न स्तर के आधार पर वर्चुअल रियलिटी के मुख्य 3 प्रकार हे । नॉन-इमर्सिव, सेमी-इमर्सिव, फुल इमर्सिव । उनके मिश्रण से, सभी तीन प्रकार के VR को एक्सटेंडेड रियलिटी (XR) भी कहा जाता है ।

1. Non-immersive virtual reality in Hindi :

Non-Immersive VR
Non-Immersive VR

नॉन इमर्सिव वर्चुअल रियलिटी सबसे सामान्य VR का प्रकार हे । इसमें वर्चुअल दुनिया कंप्यूटर सिमुलेशन होती हे । जहा आप VR के कुछ पात्रो के व्यव्हार और सामान्य प्रक्रिया को कंट्रोल कर सकते हो । लेकिन उस वर्चुअल दुनिया के सभी पहलु को कंट्रोल नहीं कर सकते हे । virtual reality in Hindi

प्लेस्टेशन , एक्सबॉक्स और कंप्यूटर में VR गेम्स नॉन इमर्सिव वर्चुअल रियलिटी सबसे उत्तम उदहारण हे । अगर आसान भाषा में समझे तो नॉन इमर्सिव वर्चुअल रियलिटी वो हे जिसमे आप वर्चुअल दुनिया के कुछ पहलु जैसे उसमे रहे पात्र और उसके व्यव्हार को माउस , कीबोर्ड , रिमोट से कंट्रोल कर सकते हे लेकिन वर्चुअल दुनिया का डायरेक्ट कण्ट्रोल आपके पास नहीं होता और वह सॉफ्टवेयर के मुताबिक चलता रहता हे । virtual reality in Hindi

2. Semi-immersive virtual reality in Hindi :

Semi-Immersive VR
Semi-Immersive VR

इस तरह की वर्चुअल रियलिटी उपयोगकर्ता को काफी हदतक असली और आभासी दोनों वास्तविकता का अनुभव कराती हे । जैसे आप एक कार में बैठकर स्टीयरिंग की मदद से हेडसेट पहन कर कार रेस गेमिंग कर रहे हो या प्लेन में लिवर को खींचकर वर्चुअली उड़ान भरते हो । virtual reality in Hindi

इस प्रकार का VR एक आभासी वातावरण में आंशिक रूप से असली वातावरण का भी अनुभव प्रदान करता है । क्यूंकि आप कार रेस करते वक्त कार में बैठे हुए होते हो । ये वर्चुअल रियलिटी नॉन इमर्सिव VR से ज्यादा असली लगती हे । इस तरह के VR का उपयोग एक वास्तविक विमान उड़ाने के जोखिम के बिना पायलेट और मिलिटरी की ट्रेनिंग के लिए होता हे ।

3. fully-immersive virtual reality in Hindi :

इस प्रकार की वर्चुअल रियलिटी सबसे अद्भुत और असली रियलिटी का एहसास दिलाती हे । इसमें हमारे सभी इन्द्रियों का एहसास शामिल होता हे जैसे देखना , स्पर्श करना , सुनना और यहाँ तक की सुंघना ।

ऐसी टेक्नोलॉजी पूरी तरह से अस्तित्व में नहीं हे। पर आज के समय में VR में हो रही प्रगति को ध्यान में रखते हुए कहा जा सकता हे की वो दिन दूर नहीं होगा जब आप कार रेस में गेमिंग करते वक्त कार की गति और ड्राइविंग को भी महसूस कर पाएंगे ।

Fully immersive VR
Fully immersive VR

इस तरह कि आभासी वास्तविकता के बारे में सोचते हैं, तो हेड-माउंटेड डिस्प्ले, हेडफ़ोन, ग्लोव्स (दस्ताने), और ट्रेडमिल या किसी प्रकार के निलंबन उपकरण के साथ पूरी तरह से इमर्सिव अनुभव होता हैं । ऐसा अनुभव जो असली दुनिया जैसा ही हे ।

शरीर पे लगे सभी उपकरणों की मदद से शरीर के हलनचलन को ट्रैक किया जा सकता हे । शाहरुख़ खान की रा-वन मूवी में भी fully immersive VR गेम का निर्माण किया था जो आपने देखा होगा ।

4. Collaborative virtual reality in Hindi :

collaborative virtual Reality
collaborative virtual Reality

ये इस तरह का वर्चुअल दुनिया या जगह हे जहा अलग अलग लोग आएंगे और एक दूसरे के साथ अपने अवतार के स्वरूप में मिल झूल सकेंगे , बात कर सकेंगे , खेल पाएंगे । उसी तरह जैसे BMG (Battleground mobile India (Indian pubg version) ) में सभी प्लेयर एक मैप में खेलते हे , बात करते हे ।virtual reality in Hindi

Metaverse में भी इस चीज की बात की गयी हे । जहा एक Virtual Office में कंपनी के सभी कर्मचारी VR की मदद से मीटिंग कर पाएंगे । अगर आप मेटावर्स के बारे में पूरी जानकारी जानना चाहते हे तो मेरा मेटावर्स टेक्नोलॉजी का ब्लॉगपोस्ट जरूर पढ़े।

5. Mixed virtual reality in Hindi :

Mixed virtual reality in Hindi भी एक ऑगमेंटेड रियलिटी जैसा ही हे । लेकिन ये ऑगमेंटेड रियलिटी से एक कदम आगे हे । इसे आप AR 2.0 भी केह सकते हे । Mixed virtual reality या mixed रियलिटी में VR और AR दोनों के गुण देखने को मिलते हे ।

Mixed reality में आप असली दुनिया में वर्चुअल वस्तुए देख सकते हो , डिज़ाइन कर सकते हो, वस्तुओ के होलोग्राम की मदद से आप चीजों को अच्छी तरह से समझ सकते हो और इंसान के होलोग्राम के साथ इंटरेक्ट कर सकते हो ।

जैसे की शरीर की रचना को समझने के लिए आप बॉडी के होलोग्राम की मदद से शरीर के अंगो के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते और इलाज धुंध सकते हे । या कार के पार्ट्स के बारे में समझ सकते हे । Ironman मूवी में भी टोनी स्टार्क सूट की रचना होलोग्राम पर डिज़ाइन करते हे । virtual reality in Hindi

Example of Mixed reality
Example of Mixed reality

भविष्य में इस टेक्नोलॉजी की मदद से एक इंसान दूसरे इंसान के होलोग्राम से बात करेंगे जैसे हम फ़ोन पर बात करते हे । लेकिन इस टेक्नोलॉजी को उस लेवल तक विकसित होने में अभी समय हे । virtual reality in Hindi

वर्चुअल रियलिटी में किस हार्डवेयर का उपयोग होता है? What Hardware Does VR Use and it’s features ?

VR टेक्नोलॉजी में मूल रूप से हेडसेट और ऎसेसरीज होती हे जैसे की कन्ट्रोलर , मोशन सेंसर आदि । इन हार्डवेयर को इंटरनेट से डाउनलोड किये गए Applications और सॉफ्टवेयर सपोर्ट करते हे । इन हार्डवेयर और उनके इस्तेमाल के बारे में हम एक के बाद एक जानेंगे ।virtual reality in Hindi

virtual reality system in hindi वर्चुअल रियलिटी हार्डवेयर में सेंसर ट्रैकर उपकरण जैसे कंट्रोलर , हेडसेट, हैंड ट्रैकर्स, ट्रेडमिल और, रचनाकारों के लिए, 3D कैमरे शामिल हैं।virtual reality in Hindi

VR हेडसेट :

VR हेडसेट को सर पर रखा जानेवाला डिवाइस है, जैसे कि गॉगल्स । VR हेडसेट एक विज़ुअल स्क्रीन या डिस्प्ले है। हेडसेट में अक्सर अत्याधुनिक ध्वनि, सिर गति-ट्रैकिंग सेंसर या कैमरे शामिल होते हैं ।

आम तोर पर तीन तरह के हेडसेट का इस्तेमाल होता हे ।virtual reality in Hindi

1. कंप्यूटर आधारित हेडसेट :

Computer-based VR
Computer based VR

कंप्यूटर पे आधारित हेडसेट सबसे अद्भुत और रिअलिस्टिक अनुभव प्रदान करते हे । और शायद इसी वजह से ये सबसे महंगे भी होते हे । इसके लिए ज्यादा कंप्यूटिंग पावर और पावरफुल ग्राफ़िक्स कार्ड की जरुरत रहती हे । ये हेडसेट केबल से बाहरी हार्डवेयर से जोड़े जाते हे ।

ये हेडसेट में उच्च गुणवत्ता की डिस्प्ले, बिल्ट-इन मोशन सेंसर और एक बाहरी कैमरा ट्रैकर, उच्च गुणवत्ता वाली ध्वनि ,छवि और उत्तम अनुभव के लिए हेड ट्रैकिंग भी हो सकती हैं । HTC Vive आज उपयोग किए जाने वाले PC के लिए सबसे अच्छे हेडसेट्स में से एक है।virtual reality in Hindi

2. स्टैंडअलोन वीआर हेडसेट :

Standalone VR Headsets
Standalone VR Headsets

स्टैंडअलोन वीआर हेडसेट भी काफी पावरफूल हेडसेट हे । ये वायरलेस होते हे जिनके अंदर बैटरी फिट की हुई होती हे । ये हाईपरफ़ोर्मन्स वाले उपकरण हैं जो सुंदर 3D छवियों को संसाधित करने में सक्षम हैं ।

इनका फायदा ये हे की ये वायरलेस होने के कारण उपयोगकर्ता पूरी आज़ादी के साथ घूम सकता हे । जब की कंप्यूटर आधारित केबल के साथ जुड़ा होता हे इसलिए उसमे ज्यादा घूमना असुविधाजनक हे । और ये स्टैंडअलोन वीआर हेडसेट कंप्यूटर आधारित हेडसेट की तुलना में सस्ते होते हे ।virtual reality in Hindi

इसका सबसे बड़ा फायदा ये हे की ये पोर्टेबल हे इसलिए इसे ऑफिस में , घर पर , प्रेसन्टेशन में , दोस्तों के घर कही पर भी इस्तेमाल किया जा सकता हे । ये एक तरह से मोबाइल की तरह हे ।virtual reality in Hindi

2. मोबाइल वीआर हेडसेट :

Mobile VR Headsets
Mobile VR Headsets

मोबाइल वीआर हेडसेट ऐसे डिवाइस हे जिसमे सिर्फ लेंस होते हे जो बड़ा इमेज बनाते हे । इस डिवाइस में लेंस के आगे फ़ोन को फिट किया जाता हे । जैसे हमने आगे बात की लेंस फ़ोन की SCREEN को दो हिस्सों में बाट देता हे जिससे ये VR डिवाइस बना जाता हे । इस तरह के मोबाइल VR हेडसेट काफी सस्ते होते हे ।virtual reality in Hindi

Amazon में आप इसे 2-3 हजार में खरीद सकते हे । इसमें वायर की जरुरत नहीं हे क्यूंकि प्रोसेसिंग मोबाइल से ही होती हे । इसका VR का अनुभव सिमित रहता हे । फ़ोन VR , गेम कंसोल- या कंप्यूटर -आधारित वीआर की तुलना में सर्वश्रेष्ठ दृश्य अनुभव प्रदान नहीं करते हैं । वे कोई स्थितीय ट्रैकिंग भी नहीं करते हैं ।

कुछ एसेसरीज हैं जिनका उपयोग आज की VR में किया जाता है:

1. ऑप्टिकल ट्रैकर्स:

ऑप्टिकल ट्रैकर्स डिवाइस यूजर की स्थिति पर नज़र रखता है। VR सिस्टम एक या एक से अधिक फिक्स्ड वीडियो कैमरों का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक आँखों के रूप में वस्तु या व्यक्ति को ट्रेक करता हे ।

2. 3D माउस :

3D mouse
3D mouse

3D माउस एक कंट्रोल और पॉइंटिंग डिवाइस है जिसे वर्चुअल 3डी स्पेस में मूवमेंट के लिए डिज़ाइन किया गया है। 3डी माउस गति और 2डी पॉइंटिंग को नियंत्रित करने के लिए कई तरीके अपनाते हैं, जिसमें एक्सेलेरोमीटर, मल्टी-एक्सिस सेंसर, आईआर सेंसर और लाइट शामिल हैं ।virtual reality in Hindi

3. वायर्ड ग्लोव्स :

VR wired gloves
VR wired gloves

हाथों पर पहने जाने वाले इस प्रकार के उपकरण को साइबर ग्लोव्स या डेटा ग्लोव्स के रूप में भी जाना जाता है। विभिन्न सेंसर टेक्नोलॉजी से ये भौतिक गति डेटा को कैप्चर करती हैं।

एक चुंबकीय ट्रैकिंग डिवाइस की तरह, एक मोशन ट्रैकर ग्लोव्स के गोल घूमने और स्थिति डेटा को पकड़ने के लिए उपयोगी है। दस्ताने सॉफ्टवेयर प्रोग्राम से जुड़े हे जो आपके हाथ के हलन चलन की जानकारी पहुंचाता हे । वायर्ड ग्लोव्स हाई-एंड स्पर्श उत्तेजना प्रदान करते हैं ।virtual reality in Hindi

4. मोशन कंट्रोलर:

ये एक्सेसरीज़ यूजर को Mixed Reality में कार्य करने में मदद देती हैं । कंट्रोलर की मदद से डिजिटल वस्तुओं को प्रभावित की जा सकता हे, उनकी स्थान को बदला जा सकता हे, उनके साथ इंटरेक्ट किया जा सकता हे क्यूंकि उनकी 3d वातावरण में इनकी एक सटीक स्थिति होती है ।virtual reality in Hindi

5. Omni VR ट्रेडमिल (ODTs):

VR treadmill
VR treadmill

यह सहायक मशीन के उपयोग से यूजर भौतिक रूप से किसी भी दिशा में जा सकता है । Omni VR ट्रेडमिल उपयोगकर्ताओं को वीआर वातावरण में पूरी तरह से इमर्सिव अनुभव के लिए स्वतंत्र रूप से एक जगह से दूसरी जगह पर जाने के लिए उपयोगी है ।virtual reality in Hindi

VR स्मेल डिवाइस :

स्मेल डिवाइस VR वर्ल्ड में नए एक्सेसरीज में से एक हैं। एक कंपनी एक हेडसेट अटैचमेंट प्रदान करती है जो कैंडी के आकार की हे और कैंडी की सुगंध का उत्सर्जन करती है। इन डिवाइस में कई अलग-अलग गंध होती हैं जो स्क्रीन एक्शन के आधार पर गंध की तीव्रता को बदल सकती हैं ।virtual reality in Hindi

Advantages of Virtual reality in Hindi or Application of virtual reality in hindi

VR टेक्नोलॉजी को आज के समय में खास करके गेमिंग में इनका उपयोग ज्यादा होता हे । लेकिन इसका मुख्य फायदा कई क्षेत्रों में एजुकेशन के लिए होता हे । अगर VR जैसी टेक्नोलॉजी लोगो के लिए अनुकूलित होती हे तो इसके कई सारे फायदे हो सकते हे । क्यूंकि ये टेक्नोलॉजी थोड़ी महंगी हे इसलिए कुछ ही लोग और संस्थाओ के द्वारा इसका सम्पूर्ण इस्तेमाल होता हे ।

वर्चुअल वास्तविकता का वर्तमान में क्या उपयोग है? virtual reality features in hindi वर्तमान समय में वर्चुअल रियलिटी का उपयोग ट्रेनिंग और शिक्षा, स्वास्थ्य , सैन्य संबंधित, मनोरंजन , मैन्युफैक्चरिंग, खेलजगत, फैशन और मार्केटिंग जैसे क्षेत्रों में होता हे । आइये जानते हे ।virtual reality in Hindi

ट्रेनिंग और शिक्षा :

VR टेक्नोलॉजी का सबसे ज्यादा और सहज उपयोग तालीम देने के लिए होता हे । किसी भी चीज को कार्यक्षम तरीके से करने से पहले तालीम की आवश्यकता होती हे । चाहे वो पायलेट के लिए प्लेन उड़ाना हो, खेल हो, विज्ञानं का प्रयोग हो या फिर इतिहास का लेक्चर हो । VR टेक्नोलॉजी सभी चीजों को आसान बना सकती हे । virtual reality in Hindi

VR training
VR training

एजुकेशन में VR टेक्नोलॉजी पूरी तरह से सिखने-पढ़ने का तरीका बदल सकती हे । कल्पना कीजिए की खगोलविज्ञान में तारो के निर्माण के बारे में जानने के लिए एक बोरिंग किताबो की जगह पर अंतरिक्ष की 3d वर्चुअल दुनिया का निर्माण किया गया हो जहा पर आप अंतरिक्ष में जाकर तारो के निर्माण और प्रक्रिया के बारे में जान सके ।virtual reality in Hindi

(अगर आप खगोल विज्ञानं और तारो के बारे में जानना चाहते हे तो मेरा खगोलविज्ञान और तारे क्यों चमकते हे? ब्लॉग पोस्ट जरूर पढ़े ।virtual reality in Hindi)

या इतिहास की किताबो की जगह पर इतिहास की प्रसिद्ध जगह की सेर कर सके और लोगो को देख सके । आपके पढ़ने और सिखने के अनुभव आप की उस विषय में दिलचस्पी और भी बढ़ा देगा और आपको पढ़ने में भी कितना मजा आएगा ।

स्वास्थ्य :

VR टेक्नोलॉजी के स्वास्थ्य चिकित्सकों, शोधकर्ताओं और रोगियों के लिए कई उपयोग हैं । आज के समय में मेडिकल स्टूडेंट्स को सर्जन (शल्य चिकित्सक) बनने से पहले VR की मदद से सर्जरी करने की ट्रेनिंग दी जाती हे । इसके आलावा VR टेक्नोलॉजी के ज़रिए कई मानसिक दर्दियो की तनाव की स्थिति को कम किया जा सकता हे । Source1 (virtual reality in Hindi)

यात्रा-संबंधी (Travel) :

जब भी आप ट्रावेल करते हे तब होटल या हॉस्टल में रहना सुविधा जनक रहता हे । लेकिन हमें ये अपनी जरुरत जे हिसाब से चाहिए होता हे । VR की मदद से आप उन होटल्स के अंदर जाकर देख सकते हे जिससे आपको पता लग जायेगा की ये अंदर से दिखने में केसी हे ।

इसके आलावा आप किसी भी जगह पर घूमने जाने से पहले VR में आप उस जगह को वर्चुअली घूम सकेंगे जिससे आपको पता चला जायेगा की ये जगह आपके दृश्टिकोण से घूमने लायक हे या नहीं । (virtual reality in Hindi)

किसी जगह के पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी कैमरा और सॉफ्टवेयर की मदद से VR कंटेंट बनाकर YouTube जैसे सोशल मीडिया पर अपलोड किया जा सकता हे जहाँपर आप VR 360 degree वीडियो का अनुभव कर सकते हे । अगर आपके स्मार्टफोन में gyro सेंसर हे तो आप VR हेडसेट की तरह 360 degree वीडियो का अनुभव ले सकते हे । एक बार निचे दिए गए वीडियो को अपने स्मार्टफोन में जरूर देखे ।

रियल एस्टेट संपत्ति :

रियल एस्टेट संपत्ति में भी ये ऐसे ही फायदा दे सकता हे जैसे ट्रावेलिंग में हमने होटल्स के बारे में बात की थी । वीआर घरों और व्यावसायिक स्थानों दोनों के लिए काम करेगा । किसी घर या ऑफिस-दुकान को खरीद ने या उसके बनने से पहले ही उसके प्लान के मुताबिक VR technology से घर के रूप, आकार , दिखावट के बारे में अच्छी तरह से पता लगाया जा सकता हे ।

सैन्य संबंधित (Military related) :

VR जैसी टेक्नोलॉजी सैनिकों को युद्ध की परिस्थितियों का सामना करने के लिए तैयार करने की लागत को बहुत कम कर सकते हैं जिन्हें वास्तविक दुनिया में नहीं किया जा सकता । मिलिटरी में कई खतरनाक हालत में की जाती ट्रेनिंग की जगह VR टेक्नोलॉजी ले सकता हे । (virtual reality in Hindi)

वीआर के जरिये , सैनिक उच्च तनाव की स्थितियों को संभालना सीख सकते हैं । इसके आलावा ये प्रभावी संचार से लेकर महत्वपूर्ण युद्ध तकनीकों में सुधार कर सकते है । यह उन्हें आत्मघाती हमलावरों या स्नाइपर हमलों जैसे शत्रुतापूर्ण वातावरण से निपटने का तरीका सीखने में भी मदद कर सकता है ।virtual reality in Hindi

मनोरंजन :

हम शायद इस चीज की कल्पना भी नहीं कर सकते हे के किस हद तक वर्चुअल रियलिटी मनोरंजन के मामले में क्रांति ला सकता हे । क्यूंकि VR tecnology, मनोरंजन के हर एक जरिए को बेहतर बना सकता हे चाहे वो गेमिंग हो , मूवी हो , म्यूजिक कॉन्सर्ट हो , प्रदर्शन, संग्रहालय,या आर्ट गैलरी हो ।virtual reality in Hindi

VR टेक्नोलॉजी ये सभी चीजे और अनेक चीजों के अनुभव को कई ज्यादा बेहतर बना सकता हे वो भी बिना घरसे निकले । मेटावर्स में भी इन चीजों पे वजन दिया गया हे की कैसे हम सिर्फ घर पे बैठे बैठे इन सभी चीजों का मनोरजन कर सकते हे ।

इसके आलावा कई अनगिनत क्षेत्र हे जहा VR टेक्नोलॉजी का उपयोग दुनिया बदल सकता हे जैसे एयरोस्पेस , कला , विमानन , फैशन , पत्रकारिता, खेलजगत , कानून संस्था , मैन्युफैक्चरिंग , मार्केटिंग आदि ।virtual reality in Hindi

Conclusion

आज के ब्लॉगपोस्ट Virtual reality in Hindi में मेने आपको वर्चुअल रियलिटी के बारे में जानकारी दी हे ।

वर्चुअल रियलिटी के इतने फायदे और उपयोग होने के बाद भी ये टेक्नोलॉजी अभी बड़े पैमाने पर इस्तेमाल नहीं की जा सकती । क्यूंकि इसके यूजर बहुत कम हे । इसके आलावा इसे इस्तेमाल करने में कई सीमाए हे और अच्छे कंटेंट की कमी हे क्यूंकि इसे अभी विकसित होने में समय लग सकता हे ।

आज के ब्लॉगपोस्ट Virtual reality in Hindi में आपने सबसे पहले जाना की Virtual reality kya hai ? वर्चुअल रियलिटी का अर्थ क्या हे ?

हमने उसके साथ-साथ वर्चुअल रियलिटी और ऑगमेंटेड रियलिटी के बिच के फर्क को भी समझा । आगे हमने जाना की वर्चुअल रियलिटी की टेक्नोलॉजी का विकास कैसे हुआ और इसका इतिहास क्या हे ।

हमने ये भी जाना की वर्चुअल रियलिटी टेक्नोलॉजी कैसे काम करती हे ? और वर्चुअल रियलिटी के प्रकार कौन कौन से हे ?

इसके आलावा हमने ये पता लगाया की इस टेक्नोलॉजी में कौन कौन से हार्डवेयर और एक्सेसरीज का इस्तेमाल होता हे ।

और आखिर में हमने ये समझा की वर्चुअल रियलिटी को किन किन क्षेत्र में इस्तेमाल किया जा रहा हे और भविष्य में इसकी क्या भूमिका रहेगी ।

आशा करता हु आपको Virtual reality in Hindi ब्लॉगपोस्ट पसंद आया होगा । अगर पसंद आया हो, तो अपने दोस्तों के साथ जरूर ऐसी जानकारी शेयर की जिए । ज्यादा जानकारी के लिए Sciencegyani ब्लॉग के और आर्टिकल पढ़िए और subscribe करे । और जानकारी पाने के लिए कमेंट जरूर करे । में ऐसे ही आपके लिए नयी नयी जानकारी लाता रहूँगा । धन्यवाद😊

Articles to read : बैटरी किसे कहते हैं: Types of battery and Evolution of battery technology

जाने Buri aadat kaise chhode, जाने science of habits हिंदी में

बंदूक का इतिहास, बन्दुक की टेक्नोलॉजी कैसे काम करती हे ?

खगोल विज्ञान के big ideas और जाने Astronomy

NFT क्या है? NFTs के बारे में कड़वा सच जो आप नहीं जानते

Leave a Reply

Your email address will not be published.