NFT क्या है?
NFT क्या है?

NFT क्या है?

NFT ! NFT ! NFT ! आखिर NFT क्या है? आप भी अगर ये ही जानना चाहते हे तो में आज इसी nft technology के बारेमें बहुत ही आसान भाषा में समझाने की कोशिश करूँगा । और ये भी बताऊंगा की क्या इसमें अपना समय इन्वेस्ट करने जैसा हे या नहीं ।

आजकल हर एक सोशल मीडिया पर NFTs(NFT क्या होता है) के चर्चे हे । कई लोगो ने इससे मिलियन डॉलर कमाए हे । लेकिन इसके बारे में पूरी जानकारी किसी को नहीं हे । फिर भी आज कल लोग खुदको इस टेक्नोलॉजी में एक्सपर्ट बता रहे हे ।

लेकिन सच तो ये हे की इस नयी टेक्नोलॉजी को विकसित होने समय लगने वाला हे । इसलिए बिना कुछ समझे अपने पेसो की बर्बादी करने से पहले NFT असल में क्या हे ? कैसे काम करती हे ये जान लेना जरुरी हे ।

इसलिए आज के ब्लॉगपोस्ट NFT क्या है? के बारे में पूरी जानकारी दूंगा । जिसमे आप आज जान जायेंगे की NFT क्या है?(Non fungible token) कैसे काम करती हे और क्या इसके बारे में अच्छा हे और क्या बुरा हे । जिससे आपको आसानी हो जाएगी की क्या ये एक इंटरनेट का scam हे या सही में ये web 3.0 हे और इन्वेस्ट करने जैसा हे। आइये जानते हे sciencegyani के इस ब्लॉगपोस्ट में।

क्रिप्टो में NFT क्या है? What are NFTS in hindi ?

what are NFTS in hindi
what are NFTS in hindi

NFT Meaning in Hindi

NFT क्या है Hindi? Nfts एक यूनिक डिजिटल संपत्ति हे । कोई भी डिजिटल वस्तु जैसे की फोटो या वीडियो एनएफटी हे । Nfts ब्लॉकचैन जैसी टेक्नोलॉजी पर आधारित हे । जैसे cryptocurrency । अगर आप ये किसी को भी पूछते हे की NFT क्या है? या NFT kya hota hai तो आप को जवाब मिलेगा की (nft full form) NFT का मतलब या full form होता हे non-fungible token ।

non fungible को अगर आसान भाषा में देखे तो इसका मतलब होता हे non replaceable । यानि की ऐसी वस्तु जिसका स्थान कोई और चीज नहीं ले सकती, जिसको किसी और वस्तु से बदला नहीं जा सकता । जो अपने आप में एक यूनिक या अद्वितीय हे ।

Monalisa painting
Monalisa painting

उदाहरण के लिए मशहूर leonardo da vinci की ओरिजिनल पेंटिंग मोनालिसा को ले लीजिए जो की non fungible हे । भले ही पेन्टिंग की कई सारी नक़ल दुनिया में होगी लेकिन ओरिजिनल चित्र पूरी दुनिया में अद्वितीय हे ।

या फिर वो घडी जो अमिताभ बच्चनजी ने पहनी हे । इस घडी को क्या किसी और समान घडी से बदला जा सकता हे ? बिलकुल नहीं क्यूंकि ये विशेष हे ।

जब की 2000 हजार की नोट fungible हे जिसे 500 की चार नोट से बदला जा सकता हे और उसका मूल्य भी नहीं बदलेगा । उसी तरह बिटकॉइन भी fungible हे । एक बिटकॉइन को दूसरे बिटकॉइन से बदला जा सकता हे ।

टोकन यहाँ पर एक सर्टिफिकेट की तरह हे जो बताता हे की कोई NFT का मालिक कोन हे या किस इंसान ने इसे खरीदी हे । जैसे घर खरीदने पर टोकन दिया जाता हे जिससे पता चलता हे की घर किसके नाम पे हे उसी तरह टोकन साबित करता हे की इस अद्वितीय मीडिया (वीडियो, ऑडियो, इमेज ट्वीटर टवीट आदि ) का मालिक सिर्फ और सिर्फ ये इंसान हे ।

NFTs ब्लॉकचैन जैसी टेक्नोलॉजी पे आधारित हे और इसे क्रिप्टोकरेन्सी के द्वारा ख़रीदा जाता हे खासकर ईथर(एथेरियम ब्लॉकचैन) के द्वारा । आशा करता हूँ की आपको जरूर समझ में आ गया होगा की NFT क्या है?

एनएफटी कैसे काम करता है?

Nft bid
Nft bid

NFT क्या है? ये समझने के बाद अब समझते हे की ये कैसे काम करता हे ? Nft का विचार 2014 सामने आया था लेकिन उसकी पेहचान 2021 में हुई । उसके बाद इसका प्रचार बढ़ता ही जा रहा हे ।

एनएफटी यूनिक आइडी बनाता हे जो डिजिटल सर्टिफिकेट देता हे जिससे साबित होता हे की NFT(NFT क्या है?) के मालिक आप हे । जैसे मशहूर चित्र की बोली लगाई जाती हे वैसे कई NFT प्लेटफॉर्म पर डिजिटल वस्तुओ की बोली(Nft bid) लगाई जाती हे । सबसे अधिक बोली लगानेवाला इंसान उस NFT का मालिक हो जाता हे ।

कई बार बेचने वाला आर्टिस्ट अपनी कीमत भी रख सकता हे । और वो कीमत चुकाकर आप NFT(NFT क्या है?) के मालिक बन सकते हे ।

लेकिन आज कल इस चीज का व्याप बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हे । ये इसलिए क्यूंकि ये एक तरह से सट्टे की तरह हो गया हे ।

जैसे बिटकॉइन के कीमत में बढ़ोतरी होने से कॉइन महंगे होते हे । वैसे ही NFT की कीमत बढ़ रही हे और लोग भविष्य में इससे अच्छी कीमत मिलने की आशा से NFT खरीद रहे हे ।

nfts ब्लॉकचैन पर हे जहा पब्लिक लेजर पर सभी लेन देन की जानकारी रखी जाती हे । ये पब्लिक लेजर पर जो भी जानकारी रखी जाती हे उसे हटाया या हैक नहीं किया जा सकता ।

NFT कैसे बनाये?

NFT
NFT

ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी और NFT (NFT क्या है?) डिजिटल क्रिएटर को अपने कलाकारी के जरिए पैसे कमाने का अवसर प्रदान कर रहे हैं । कलाकार अपनी कलाकृति को सीधे उपभोक्ता को एनएफटी के रूप में बेच सकता है, जिससे उन्हें अधिक लाभ मिलता है ।

अगर आप डिजिटल आर्टिस्ट हे तो nft marketplace का जरूर अनुभव करे । BinanceNFT , OPENSEA , CRYPTO लेकिन इस आर्टवर्क को बेचने के लिए आपको gas fee देनी होगी । जिसकी कीमत ऊपर निचे होती रहती हे । (NFT क्या है?) NFT को आप ऐसे ही नहीं बेच सकते ।

इसलिए आपके पास डिजिटल वॉलेट होना चाहिए जिसमे आप एथेरियम जैसी क्रिप्टोकरेंसी रख सके । जिसको आप प्राइवेट की से एक्सेस कर सकते हे ।

NFts के बारे में अच्छी बातें

एनएफटी की बारे में इंटरनेट पर अभी तक आपने कई बात सुनी होगी । लेकिन हर एक चीज के दो पहलु होते हे अच्छा और बुरा । और में आपके सामने ऐसी बाते बताऊंगा जिसको शायद अपने कभी नहीं सुना होगा ।

क्यूंकि मेरा काम आपको nft से पेसो का लालच देना नहीं हे पर सच्चाई से वाकिफ करना हे और ये बताना हे की कैसे इसमें हो रहे घोटालो से बचे ।(NFT क्या है?) सबसे पहले NFTs की अच्छी बातो के बारे में जानेगे , उसके बाद में आपको NFTs का कड़वा सच बताऊंगा जो आप नजर अंदाज़ नहीं कर सकते ।

लेकिन दोनों पहलु को पढ़ने के बाद, आप जरूर निश्चित कर पाएंगे की क्या आपको एनएफटी के पीछे समय व्यतीत करने जैसा हे या नहीं ?

  • कई आर्टिस्ट का कहना हे की उनके लिए NFts(NFT क्या है?)वरदान के रूप में हे क्यूंकि छोटे-मोटे आर्टिस्ट अपनी कलाकृति की नीलामी नहीं कर सकते और उन्हें लोगो तक पहुंचने का मौका नहीं मिलता । NFts की मदद से ये आर्टिस्ट को अपनी कला का मूल्य मिल रहा हे और आर्टिस्ट की पहचान बढ़ रही हे ।
  • आर्ट गैलरी और नीलामी कंपनी के लिए भी nfts फायदेमंद हे । (NFT क्या है?) क्यूंकि के ये नयी टेक्नोलॉजी हे इस प्लेटफार्म आने वाले लोगो को nfts के जरिए इन आर्ट गैलरी बिज़नेस और कंपनी की पहचान और मान्यता बढ़ती हे । उन्हें कला की कदर करने वाले नए ग्राहक भी मिल जाते हे ।
  • इसके आलावा आज कल सोशल मीडिया पर दिखने वाले कंटेंट की nfts के आप मालिक बन सकेंगे अगर आप बनना चाहते हे तो । उसे आप फ्यूचर में ऐसे वैल्युएबल कंटेंट को भाड़े पर दे सकते हो , बेच सकते हो , या हो सकता हे उसपे आप लोन भी दे सकते हो । लेकिन ये सब तब होगा जब सभी जगह पर NFT को मान्यता मिल जाये ।
  • क्यूंकि ये ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर आधारित हे NFTs को हैक करना , चुराना, बदल देना काफी मुश्किल हे । भविष्य में ऐसी टेक्नोलॉजी कई चीजों में दुनिया को बदल सकती हे । जैसे की यूनिवर्सिटी के द्वारा वेरिफाई की डिग्री की nfts को ब्लॉकचैन पर रखा जा सकता हे । और इसे Linkdin और nuakri.com जैसी साइट्स से जोड़ा जा सकता हे ।
  • उसी तरह घर के कागजात की NFTs(NFT क्या है?) को भी ब्लॉकचैन पर रखा जा सकता हे । जिससे इन सब चीजों में होने वाले घोटालो को कम किया जा सकता हे ।
  • कई लोगो का ये भी कहना हे की इंटरनेट से पहले हम दोस्तों और परिवार से मिलने जाते हे , खरीदी करने के लिए स्टोर में जाते थे , और एंटरटेनमेंट के लिए थिएटर में जाते थे । लेकिन आज इंटरनेट पर सोशल मीडिया , Amazon और netflix जैसी चीजों ने कई हद तक इनसब चीजों की जगह ली हे । उसी तरह हो सकता हे की जैसे हम आज भौतिक सम्पति को हासिल करते हे वैसे ही भविष्य में डिजिटल सम्पति को nfts(NFT क्या है?) के जरिए हासिल करे ।
  • इसलिए शायद metaverse में भी मार्क ज़ुकेरबर्ग ने NFTs पर जोर डाला हे । जैसे असल दुनिया में आप कपडे और साधन सामग्री खरीदते हे वैसे metaverse में भी आप अपने अवतार के लिए nfts(NFT क्या है?) के रूप में आप इन सब चीजों को खरीद पाएंगे । वैसे ही जैसे PUBG जैसी गेम्स में स्किन को खरीदते हे ।
  • adidas जैसी कोम्पनिओ ने भी अपने पोशाक और चीज वस्तु की nfts को metaverse और वर्चुअल दुनिया के लिए डिज़ाइन करना शुरू कर दिया हे । इसके आलावा कोकाकोला, ray-ban और Mcdonald जैसी कोम्पनिओ ने भी मार्केटिंग के लिए nfts रिलीज़ किये ।

अगर आप metaverse क्या हे और केसा हे ये जानना चाहते हे तो मेरा Metaverse के ऊपर ब्लॉगपोस्ट जरूर पढ़े।

NFts के बारे में कड़वा सच जो आपको शायद पहले नहीं सुना होगा

आजकल NFts(NFT क्या है?) के इतने चर्चे चल रहे हे की लोगो की दिलचस्पी बढ़ती ही जा रही हे । लेकिन कई लोग नहीं जानते की घोटाले भी इतने ही हो रहे हे । मेरे साथ बने रहिये और में आपको बताऊंगा की क्यों NFts खतरे से खाली नहीं हे । आइये जानते हे ।

NFTs Collections
NFTs Collections

आप ही सोचिए एक इमेज का मूल्य क्या हो सकता हे । जिस चीज को आपने अभी फ्री में देख लिया उसी तरह की कुछ इमेज लाखो में बिक रही हे । लेकिन आखिर क्यों ? (NFT क्या है?) कुछ लोग NFT को इस लिए खरीदते हे क्यूंकि भविष्य में इसे बेचकर मुनाफा प्राप्त कर सके ।

लेकिन इस बात की भी कोई गारंटी नहीं हे । कई लोग इस चीज का लाभ उठाते हे और लोगो को बेवकूफ भी बनाते हे । (NFT क्या है?) उनके nfts बिकते ही ये लोगो गायब हो जाते हे । ऐसे कई घोटाले सामने आये हे ।

Nft scams

ऐसे और भी किस्से सामने आये हे जिसमे आर्टिस्ट और उनके दोस्त आपसमे (NFT क्या है?) NFTS को खरीद ते हे जिससे वो nfts मार्केट में इसकी कीमत बढ़ा सके। आखिर में इसे वैल्यू वाली चीज समझकर लोग खरीद लेते हे जिसकी आखिर में कोई वैल्यू नहीं रहती ।

हर एक भौतिक चीज वस्तु हम इसलिए खरीदते हे क्यूंकि इसका कुछ न कुछ उपयोग होता हे । जैसे घर रहने काम आता हे और कार को एक जगह से दूसरे जगह जाने के लिए काम आती हे । लेकिन अधिकतर सभी डिजिटल चीजे लगभग फ्री में मिल जाती हे और उनका उपयोग भी थोड़े समय के लिए ही होता हे ।

कुछ Nfts लवर्स का ये भी कहना हे की इससे गेमिंग दुनिया में काफी बदलाव आएगा । लेकिन गेमिंग में भी एक गेम की स्किन , या हैट , ड्रेस आप दूसरी गेम शायद इस्तेमाल ही नहीं कर पाएंगे । क्यूंकि सभी गेम्स के ग्राफ़िक्स और फोर्मट्स अलग अलग होते हे ।

nfts का मुख्या विचार ये हे की ये non fungible हे यानि की जो भी इसे खरीदेगा उसे उस आर्ट या GIF या वीडियो की ओरिजिनल फाइल का मालिक होगा । पर सभी जानते हे की ये मुमकिन नहीं हे । फाइल को बनाने वाले क्रिएटर के कंप्यूटर में ही ओरिजिनल फाइल होगी । डिजिटल फाइल्स को कॉपी करके ही एक कंप्यूटर से कोई प्लेटफार्म पर भेजा जायेगा ।

और सबसे बड़ी चिंता की बात तो उनके लिए हे जो आर्टिस्ट हे । आप शायद नहीं जानते होंगे पर NFts पर कई ऐसे लोग होंगे जो दूसरे के आर्ट की चोरी करते होंगे । ऐसे कई किस्से सामने आइये हे ।

कई बार ट्विटर पर उन आर्टिस्ट ने अपनी ऑडियंस को आगाह किया हे की कुछ NFts प्रोजेक्ट्स ऐसे हे जिनमे उनकी डिज़ाइन को चुराकर (NFT क्या है?) NFts बनाकर उन्हें बेचा जा रहा हे । 2021 में NFTs की लोकप्रियता बढ़ने के बाद कई ऐसे प्रसिद्ध चित्र के डिज़ाइन की चोरी हुई हे और वो चोरी बढ़ती ही जा रही हे ।

जैसे की मेने बताया की (NFT क्या है?) NFTs ब्लॉकचैन जैसी टेक्नोलॉजी पर आधारित हे । और ब्लॉकचैन पर जो भी लेनदेन होती हे वो दुनिया में एक दूसरे से जुड़े हुए कंप्यूटर से होती हे । कंप्यूटर ही हे जो 24 घंटे इन लेनदेन की गिनती करने के लिए इलेक्ट्रिसिटी का इस्तेमाल करते हे ।

एथेरियम ब्लॉकचैन लगभग 33 terawatt hours (2021) बिजली का उपयोग कर रही हे । आप भी समझ सकते हे की बिजली के उत्पादन से कितना कार्बन डाइऑक्साइड हवा में जाता हे और प्रदुषण बढ़ता हे ।

और ग्लोबल वार्मिंग के बढ़ने से कई सारि प्रॉब्लम खड़ी हो सकती हे जिसे मेने ग्लोबल वार्मिंग के ब्लॉगपोस्ट में विस्तृत से बताया हे तो आप उसे पढ़ सकते हे ।

(NFT क्या है?) NFT के बढ़ते व्याप की वजह से ग्लोबल वार्मिंग का खतरा भी बढ़ सकता हे । और इतनी ज्यादा इलेक्ट्रिसिटी का उपयोग उन चीजों को खरीदने के लिए किया जा रहा हे जिसे आप फ्री में भी देख सकते हे । आप ही बताइये कितना सही हे ये😢 ?

मेरा कहना ये नहीं हे की nfts को नहीं अमल किया जाना चाहिए या हटा देना चाहिए । मेरा मानना हे की nfts जैसी टेक्नोलॉजी दुनिया को बदलने की ताकत रखती हे । लेकिन आप उस टेक्नोलॉजी को कैसे उपयोग में लेते हो ये आपके ऊपर हे । आज इस टेक्नोलोग्य का उपयोग डिजिटल वस्तुएं बेचने के लिए किए जा रहा हे । जिसका मार्किट काफी अधिमूल्य और ऊपर निचे होता रहता हे इसलिए इसमें इन्वेस्ट करना काफी जोखिम भरा हो सकता हे ।

जैसे की मेने बताया की इसमें घोटाले भी काफी देखने को मिल रहे हे । क्यूंकि ये ब्लॉकचैन पर आधारित हे इसके स्कैम्स को हटाना और ट्रैक कर पाना भी मुश्किल हे जिसके लिए इन्हे उचित प्रणाली की जरुरत हे ।

ये टेक्नोलॉजी को और भी विकसित होगी और ये टेक्नोलॉजी भविष्य में जरूर इस्तेमाल की जाएगी ।

अपने क्या सीखा इस पोस्ट से ?/ Conclusion

आशा करता हूँ की आज के NFT क्या है? ब्लॉगपोस्ट में अपने जान लिया होगा की NFT क्या है? कैसे काम करती हे ।

अगर आप भी आर्टिस्ट हे तो आप भी Nft बना सकते हे और Nft मार्केटप्लेस पर जा सकते हे ।

आगे हमने ये भी जाना की कैसे ये टेक्नोलॉजी हमारे काम आ सकती हे और इसकी अच्छी बाते क्या हे ?

आगे हमने जाना की इसमें क्या कमिया हे किस तरह के स्कैम्स देखे जा रहे हे । इसके आलावा और भी कई जानकारी हमने प्राप्त की जिससे आपको ये समझने में आसानी रहेगी की क्या आपको इसमें अपना समय व्यतीत करना चाहिए या नहीं ।

आशा करता हूँ आपको ब्लॉगपोस्ट की जानकारी पसंद आयी होगी । विज्ञानं और टेक्नोलॉजी के बारे में जानने के लिए ऐसे ही मेरा ब्लॉग पढ़ते रहे । धन्यवाद

Also read : वर्चुअल रियलिटी टेक्नोलॉजी की महत्वपूर्ण जानकारी

99 facts-about-dogs-in-hindi ,

NASA curiosity rover discovery 2022 ,

anti aging diet

Leave a Reply

Your email address will not be published.